Advertisement

New shayari for love - New shayari for love हिन्दी मे

New shayari for love - New shayari for love हिन्दी मे

shayari for love hindi
shayari for love hindi


New Shayari for love, अगर आप hindi shayari पढ़ना पसंद करते हैं तो आप सही जगह पर हैं।यहां मैं आपके साथ 100+ अद्वितीय hindi shayari collection साझा करने जा रहे हैं जीसके द्वारा आप अपने girlfriend ya boyfriend के सामने अपनी feelings को व्यक्त कर सकते हैं।

आजकल अधिकांश लोग girlfriend, boyfriend को impress करने के लिए hindi shayari का प्रयोग करते हैं।hindi shayari इंटरनेट पर सबसे अधिक ट्रेंडिंग चीज है, facebook, WhatsApp, Instagram आदि जैसे सोशल मीडिया पर Hindi shayari का इस्तेमाल करते हैं।अगर आप अपने प्रियजन को प्रभावित करना चाहते हैं तो आपको new shayari for love के लिए जाना चाहिए, हम आपको सभी समय की सबसे प्रसिद्ध new shayari for love दे रहे हैं।इन 100+ new shayari for love आपके लिए एक उछाल होगी और आप निश्चित रूप से इन्हें प्यार करेंगे।

Hindi shayari के लिए अपने सभी समय का सर्वश्रेष्ठ परिणाम देने के लिए हमने इस new shayari for love को 100% अद्वितीय बताया है और आपके लिए hindi shayari के सर्वश्रेष्ठ परिणाम को प्रस्तुत करने के लिए वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं।ये सब new shayari for love दिल से लिखी जाती हैं आप इन new shayari for love को हिंदी में नीचे से copy करके साझा कर सकते हैं।

हमे उम्मिद हैं की आपको हमारा new shayari for love collection पसंद आएगा. तो चालीये शूरु करते हैं आज का new shayari for love collection.

°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°°

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए
हम तो बादल है प्यार के…किसी और पर बरस जायेंगे|






शायर तो हम है शायरी बना देंगे
आपको शायरी मे क़ैद कर लेंगे|

कभी सूनाओ हमे अपनी आवाज़
आपकी आवाज़ को हम ग़ज़ल बना देंगे.||






घर से बाहर कोलेज जाने के लिए वो नकाब मे निकली….
सारी गली उनके पीछे निकली…

इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से……….
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली………






मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,
और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं,
“वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,
वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”






वो रात दर्द और सितम की रात होगी,
जिस रात रुखसत उनकी बारात होगी,
उठ जाता हु मैं ये सोचकर नींद से अक्सर,
के एक गैर की बाहों में मेरी सारी कायनात होगी…..






दिल पे क्या गुज़री वो अनजान क्या जाने;
प्यार किसे कहते है वो नादान क्या जाने;
हवा के साथ उड़ गया घर इस परिंदे का;
कैसे बना था घोसला वो तूफान क्या जाने……………







मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,
और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं,
“वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,
वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”






वो रात दर्द और सितम की रात होगी,
जिस रात रुखसत उनकी बारात होगी,
उठ जाता हु मैं ये सोचकर नींद से अक्सर,
के एक गैर की बाहों में मेरी सारी कायनात होगी…..







तू चाँद मे सितारा होता
आसमान के एक आशियाना में
एक आशियाना हमारा होता
लोग तुम्हे दूर से देखते
नज़दीक से देखने का हक़ बस हमारा होता|







दिल पे क्या गुज़री वो अनजान क्या जाने;
प्यार किसे कहते है वो नादान क्या जाने;
हवा के साथ उड़ गया घर इस परिंदे का;
कैसे बना था घोसला वो तूफान क्या जाने……………







कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे
हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे
वो तरस जायेंगे प्यार की एक बून्द के लिए
हम तो बादल है प्यार के…किसी और पर बरस जायेंगे|







मजनू को लैला का SMS नही आया..
मजनू ने 3 दिन से खाना नहीं खाया..
मजनू मरने वाला था लैला के प्यार में
और लैला बेती थी SMS FREE होने के इंतेज़ार में..







शायर तो हम है शायरी बना देंगे
आपको शायरी मे क़ैद कर लेंगे|

कभी सूनाओ हमे अपनी आवाज़
आपकी आवाज़ को हम ग़ज़ल बना देंगे.||







ज़िंदगी में बार बार सहारा नही मिलता,
बार बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,
है जो पास उसे संभाल के रखना,
खो कर वो फिर कभी दुबारा नही मिलता…







इश्क़ सभी को जीना सीखा देता है,
वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है.
इश्क़ नही किया तो करके देखो,
ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है…








कुछ उलझे सवालो से डरता हे दिल
जाने क्यों तन्हाई में बिखरता हे दिल
किसी को पाने कि अब कोई चाहत न रही
बस कुछ अपनों को खोने से डरता हे ये दिल







फ़ोन मेरी ज़िन्दगी का एक अहम् हिस्सा बन गया
फ़ोन पर मिली तू मुझे और प्यार का एक नया किस्सा बन गया

होती थी रोज मुलाकाते फ़ोन पर हमारी
तू मेरे दिल कि रानी मैं तेरे दिल का रजा बन गया







मेरे वजूद मे काश तू उतार जाए
मे देखु आईना ओर तू नज़र आए,
तू हो सामने और वक़्त ठहर जाए,
ये ज़िंदगी तुझे यू ही देखते हुए गुज़र जाए..







जब खामोश आँखो से बात होती है
ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है
तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं
पता नही कब दिन और कब रात होती है……..







मुस्कुराते पलको पे सनम चले आते हैं,
आप क्या जानो कहाँ से हमारे गम आते हैं,
आज भी उस मोड़ पर खड़े हैं,
जहाँ किसी ने कहा था,कि ठहरो हम अभी आते हैं……….








मंदिर में जप करता हूँ,
मस्जिद में आदाब करता हूँ,
इंसान से कहीं भगवान ना बन जाउ
इसलिए रोज़ तुझको SMS करके पाप करता हूँ







वो ज़िंदगी ही क्या जिसमे मोहब्बत नही,
वो मोहबत ही क्या जिसमे यादें नही,
वो यादें क्या जिसमे तुम नही,
और वो तुम ही क्या जिसके साथ हम नही!!!







सुहाना मौसम ओर हवा मे नमी होगी
आशुंओ की बहती नदी होगी
मिलना तो हम तब भी चाहेगे आपसे
जब आपके पास वक्त और हमारे पास सासों कि कमी होगी








उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको
खिलता हुआ फूल खुशबू दे आपको
हम तो कुछ भी देने के काबिल नहीं,
देनेवाला हज़ार खुशिया दे आपको!







जिस चीज़ पे तू हाथ रखे वो चीज़ तेरी हो,
और जिस से तू प्यार करे, वो तक़दीर मेरी हो.







जुकी जुकी नजर तेरी, कमाल कर जाती हे,
उठती हे एक बार तो, सवाल कर जाती हे,







जादू है उसकी हर एक बात मे,
याद बहुत आती है दिन और रात मे,
कल जब देखा था मैने सपना रात मे,
तब भी उसका ही हाथ था मेरे हाथ मे…







आँखों मे आ जाते है आँसू,
फिर भी लबो पे हसी रखनी पड़ती है,
ये मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो,
जिस से करते है उसीसे छुपानी पड़ती है…








दिल से दिल मिले होते
तो हमारे भी सपने पुरे हो जाते ,
फूल काँटों पे नहीं खिले होते,
तो फूल तो कोई भी बन जाते, अगर कांटे नहीं होते!







हम चाहे न चाहे निगाहे मिल ही जाती हैं
निगाहे तो जरिया है दो दिलो के मिलने का
जब मिलने हो दो दिल , निगाहे मिल ही जाती है……….








कभी कभी , ऐसा होता है
प्यार का असर देर से होता है।
आपको क्या लगता हम आपके बारे कुछ नही सोचते
पर हमारी हर बात में आपका जिक्र होता है।







मेरे वजूद मे काश तू उतार जाए
मे देखु आईना ओर तू नज़र आए,
तू हो सामने और वक़्त ठहर जाए,
ये ज़िंदगी तुझे यू ही देखते हुए गुज़र जाए..







एक सच्चा दिल सब के पास होता हैं !
फिर क्यों नहीं सब पे विश्वास होता हैं !!
इंसान चाहे कितनो भी आम हो….!
वो किसी न किसी के लिए जरुर खास होता हैं !!







चाँद से कहो चमकना छोङ दे
सितारोँ से कहो टिमटिमाना छोङ दे
तुम मुझसे मिलने नहीँ आती तो
अपनी यादोँ से कहो मुझे सताना छोङ दे!







सुना है प्यार मे उड़ जाती है नींद,
सुना है प्यार मे उड़ जाती है नींद,
काश कोई हमें भी प्यार करे,
क्योकि हमें बहुत आती है नींद.







वो दिन दिन नही..वो रात रात नही..
वो पल पल नही जिस पल आपकी बात नही..
आपकी यादो से मौत हमे अलग कर सके.
मौत की भी इतनी भी औकात नही







क्यो किसी से इतना प्यार हो जाता है,
एक पल का इंतज़ार भी दुश्वार हो जाता है,
लगने लगते है अपने भी प्यारे,
और एक अजनबी पर ऐतबार हो जाता है…







आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.







पलकों को कभी हमने भिगोए ही नहीं,
वो सोचते हैं की हम कभी रोये ही नहीं,
वो पूछते हैं कि ख्वाबो में किसे देखते हो?
और हम हैं की उनकी यादो में सोए ही नहीं!







दिल के सागर मे लहरे उठाया ना करो,
ख्वाब बनकर नींद चुराया ना करो,
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख्वाबो में आ कर यू तडपाया ना करो….







बहुत खूब सूरत है आखै तुम्हारी
इन्हें बना दो किस्मत हमारी
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी







सूरज आग उगलता है
सहना धरती को पड़ता है
मोह्हबत निगाहे कराती है
सहेना दिल को पड़ता है







पत्थर की दुनिया जज़्बात नही समझती,
दिल में क्या है वो बात नही समझती,
तन्हा तो चाँद भी सितारों के बीच में है,
पर चाँद का दर्द वो रात नही समझती…







हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे,
कभी चाहा था किसी ने,तुम ये खुद कहोगे,
न होगे हम तो किसी ने ,तुम ये खुद कहोगे,
मिलेगे बहुत से लेकिन कोई हम सा पागल ना होगा.







ए खुदा मोहूबत भी तूने अजीब चीज बनाए है,
तेरे ही बन्दे तेरी मस्जिद में तेरे ही सामने रोते है,
लेकिन तुजे नहीं किसी और को पानेके लिये…







ऐ रात तू मेरे अकेले पन पर इस कदर मत हस
वर्ना तू उस दिस बहुत पछताएगी .
जब मेरी मोहबह्त मेरी बहो में होगी .






हमारी किसी बात से खफा मत होना,
नादानी से हमारी नाराज़ मत होना.
पहली बार चाहा है हमने किसी को इतना,
चाह कर भी कभी हमसे दूर मत होना..








प्यार का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करू
आप भूल बी जाओ तो मे हर पल याद करू
प्यार ने बस इतना सिखाया हे मूज़े
की खुद से पहले आपके लिए दुआ करू..!!







दिल की हर बात ज़माने को बता देते है
अपने हर राज़ से परदा उठा देते है
चाहने वाले हमे चाहे या ना चाहे
हम जिसे चाहते है उस पर ‘जान’ लूटा देते है.







गुल को गुलाब बना देते,
गुलाब को कमल बना देते,
जानम तुम हम पर मरते नहीं,
वरना जोधपुर में भी ताजमहल बना देते!







तन्हाई मैं मुस्कुराना भी इश्क़ है
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है
यूँ तो रातों को नींद नही आती
पर रातों को सो कर भी जाग जाना इश्क़ है







तू चाँद और मैं सितारा होता,
आसमान में एक आशियाना हमारा होता,
लोग तुम्हे दूर से देखते,
नज़दीक़ से देखने का हक़ बस हमारा होता..







अपनो को दूर होते देखा ,
सपनो को चूर होते देखा !
अरे लोग कहते हैँ कि फूल कभी रोते नही ,
हमने फूलोँ को भी तन्हाइयोँ मे रोते देखा !







हभ क्योँ गम करेँ
अगर वो हमेँ ना मिले
अरे! गम तो वो करेँ
जिसे हम ना मिले







मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा,
हमे कश्ती ने नहीं किनारों ने लूटा,
आप तो डर गये मेरी एक ही कसम से,
आपकी कसम देकर हमें तो हज़ारों ने लूटा….







कितना भी चाहो ना भूला पाओगे
हमसे जितना दूर जाओ नज़दीक पाओगे
हमे मिटा सकते हो तो मिटा दो
यादें मेरी, मगर….
क्या सपनो से जुदा कर पाओ गे हमे|








रिस्ता तो ऊपर वाले कि दुनिया मे बनता है
बस हम निभाना जानते है
खुदा से दुआ करते है की आपकी दोस्ती पाना चाहते है|







ए चाँद मेरे दोस्त को एक तोहफा देना,
तारो की महफ़िल संग रोशनी करना,
छुपा लेना अंधेरे को,
हर रात के बाद एक खूबसूरत सवेरा देना…








सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती ,
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती!
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है बरना ,
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती !







फुलो सा खुबसुरत चेहरा हैं आपका,
हर दिल दिवाना है आपका,
लोग कहते है चाँद का टुकडा है आप,
लेकिन हम कहते है चाँद टुकडा है आपका!








याद मे तेरी आँखे भरता हे कोई,
हर सांस के साथ याद करता ह कोई,
मौत तो ऐसी चीज़ हे जिसको आना ही हे…
लेकिन तेरी जुदाई मे हर रोज मरता हे कोई.







प्यार मे कोई दिल तोड़ देता है
दोस्ती मे कोई भरोसा तोड़ देता है
ज़िंदगी जीना तो कोई गुलाब से सीखे
जो खुद टूट कर दो दिलों को जोड़ देता है…









दिल की हस्ती बिखर गई होती,
रूह के जखम भर गए होते,
जिन्दगी आपके नवाज़ में हे,
वरना हम तो कब के मर गए होते……








नज़र को नज़र की खबर ना लगे,
कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे,
आपको देखा है बस उस नज़र से,
जिस नज़र से आपको नज़र ना लगे…!







ना करो वो वादा जो पूरा ना हो सके,
ना चाहो उसे जिसे पा ना सको,
प्यार कहा किसीका पूरा होता है,
पहेला प्यार अकशर अधुरा ही होता है!!!







ना करो वो वादा जो पूरा ना हो सके,
ना चाहो उसे जिसे पा ना सको,
प्यार कहा किसीका पूरा होता है,
पहेला प्यार अकशर अधुरा ही होता है!!!







जो जितना दूर होता है नज़रो से,
उतना ही वो दिल के पास होता है,
मुस्किल से भी जिसकी एक ज़लक देखने को ना मिले,
वही ज़िंदगी मे सबसे ख़ास होता है…







काश मेरी ज़िन्दगी का अंत कुछ इस तरह हो
की मेरी कबर पे बना उनका घर हो
वो जब जब सोये ज़मीन पर
मेरे सीने से लगा उसका सर हो!







नज़र को नज़र की खबर ना लगे,
कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे,
आपको देखा है बस उस नज़र से,
जिस नज़र से आपको नज़र ना लगे…!







तेरे प्यार ने ज़िंदगी से पहचान कराई है
मुझे वो तूफ़ानो से फिर लौटा के लाई है
बस इतनी ही दुआ करते हैं खुदा से हम
बुझे ना यह शमा कभी जो हमने जलाई है…







हसना और हसाना कोशिश है मेरी,
हर कोई खुश रहे ये छत है मेरी,
भले ही कोई मुझसे याद करे न ना करे,
हर अपने को याद करना आदत है मेरी….







हा मेरा हर लम्हा चुरा लिया आपने,
आँखों को एक नया चाँद दिखा दिया आपने,
हमें ज़िन्दगी दी किसी और ने,
पर इतना प्यार देकर जीना सिखाया आपने!






एक दिन जब मेरी सांस बंद हो जाएगी
मत सोचना की चाहत कम हो जाएगी
फ़र्क सिर्फ़ इतना होगा आज हम आपको याद करते हैं
कल मेरी याद आपको रुलाएगी.







हम आप को कभी खोने नहीं देंगे .
जुदा होना चाहा तो भी होने नहीं देंगे .
चाँदनी रातों में आएगी मेरी याद .
तो मेरी याद के वो पल आप को सोने नहीं देंगे…







अंदाज़-ऐ-प्यार आपकी एक अदा हे,
दूर हो हमसे आपकी खता हे,
दिल में बसी हे एक प्यारी सी तस्वीर आपकी,
जिस के निचे “आई मिस यू” लिखा हे..







बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता .
तोड़ने वाले के हाथ मे जखम तो आया होता .
जब बी देखता वो अपने हाथों को ,
उसे हमारा ख़याल तो आया होता!







चाहने से कोई चीज़ अपनी नही होती,
हर मुस्कुराहट खुशी नही होती,
अरमान तो भूख होती है दिल मे,
मगर कभी वक़्त तो कभी किस्मत सही नही होती….







लम्हे जुदाई को बेकरार करते हैं
हालत मेरे मुझे लाचार करते हैं
आँखे मेरी पढ़ लो कभी
हम खुद कैसे कहे की आपसे प्यार करते हैं









जबरदस्ती का रिश्ता निभाया नहीं जाता,
किसको अपना बनाया नहीं जाता,
जो दिल के करीब होते है वही अपने होते है,
गेरो को सपनो में बसाया नहीं जाता…………..








गम ना कर ज़िंदगी बहुत बड़ी है,
चाहत की महफ़िल तेरे लिए सजी है,
बस एक बार मुस्कुरा कर तो देख,
तक़दीर खुद तुझसे मिलने बाहर खड़ी है…








सिर्फ़ बंधन को विश्वास नही कहते
हर आँसू को जज़्बात नही कहते,
किस्मत से मिलते है रिश्ते ज़िंदगी मे,
इसलिए रिश्तो को कभी इतेफ़ाक़ नही कहते.







मोहब्बत की राहों में सिर्फ गम ही गम नहीं है,
हर प्यारकरनेवाले की आँखे नम नहीं है,
प्यार तो सिर्फ नाम से बदनाम है,
वरना प्यार में मिलनेवाली खुशिया भी कुछ कम नहीं है







तुम्हारी पसंद हमारी चाहत बनजाए
तुम्हारी मुस्कराहट दिल की राहत बनजाए
खुदा खुशीओ से इतना खुश करदे आपको
की आपको खुश देखना हमारी आदत बनजाए







हर बात केहकर समजाई नहीं जाती,
कुछ बाते दिल में छिपाई नहीं जाती,
आँखे भी बात करने का एक जरिया है,
पर हर किसीके आँखों की बाते समजी नहीं जाती







ज़िंदगी की हर एक उड़ान बाकी है
हर मोड़ पर एक इम्तिहान बाकी है
अभी तो सिर्फ़ आप ही परेशान है मुजसे
अभी तो पूरा हिन्दुस्तान बाकी है…







कितनी जल्दी ज़िन्दगी गुज़र जाती है,
प्यास भुझ्ती नहीं बरसात चली जाती है,
तेरी याद कुछ इस तरह आती है,
नींद आती नहीं मगर रात गुज़र जाती है |







आँखों से आँखों का मेल जब होता है,
दिल में एक चाहत सी जाग उठती है,
रात को सपनो में उसका चेहरा होता है,
ज़िन्दगी भी खूबसूरत अफसाना लगती है |








कितने चेहरे हैं इस दुनिया में,
मगर हमको एक चेहरा ही नज़र आता है,
दुनिया को हम क्या देखे,
उसकी यादों में सारा वक़्त गुज़र जाता है |






सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा,
सदिया बीत गयी वो लम्हा याद रहा,
जाने क्या बात है आप में,
सारी महफ़िल भूल गए बस वो पल याद रहा |







सोचता हूँ सागर की लहरों को देख कर,
क्यूँ ये किनारे से टकरा कर पलट जातें हैं,
करते हैं ये सागर से बेवफाई,
या फिर सागर से वफ़ा निभातें हैं |







तनहाई में फरियाद तो कर सकता हूँ,
वीराने को आबाद कर सकता हूँ,
जब चाहूँ तुम्हे मिल नहीं सकता,
लेकिन जब चाहूँ तुम्हे याद कर सकता हूँ |






हुस्न वाले वफ़ा नहीं करते,
इश्क वाले दगा नहीं करते,
जुल्म करना तो इनकी आदत है,
ये किसी का भला नहीं करते |







हमने भी कभी प्यार किया था,
थोड़ा नही बेशुमार किया था,
बदल गयी जिंदगी तब,
जब उसने कहा अरे पागल मैने तो मज़ाक किया था…







ज़िंदगी लंबी है दोस्त बनाते रहो,
दिल मिले ना मिले हाथ मिलते रहो,
ताज महल बनाना तो बहुत कॉस्ट्ली होगा,
पर हर गली में एक मुमताज़ बनाते रहो… 






तो दोस्तों यह था हमरा new shayari for love का new collection अगर आपको पसंद आये तो शेअर किहिये WhatsApp, Facebook, Instagram पर.
धन्यवाद